Categories
SARKARI YOJANA

श्रमिक कार्ड क्या होता है व इसके लाभ क्या क्या है Shrmik Card Kaise Banany

श्रमिक कार्ड के फायदे , Shrmik Card Kaise Banay || श्रमिक कार्ड से क्या क्या लाभ मिलता है || श्रमिक कार्ड क्या होता है || श्रमिक कार्ड का लाभ कैसे लिया जाता है ||

श्रमिक कार्ड क्या होता है what Is labor card

Shrmik Card – यह एक मजदूरो के लिए शुरू की गई योजना है जो देश के सभी राज्यों में लागु है श्रमिक कार्ड एक मजदुर को दिया जाने वाला कार्ड (डायरी) होता है जिससे असंगठित क्षेत्र में काम करने वाले मजदुर कि पहचान होती है इसके लिए मजदुर को श्रमिक विभाग में पंजीयन करवाना होता है जो मजदुर विभाग में पंजीयन होते है उन्हें Shrmik Card दिया जाता है श्रमिक कार्ड से कई तरह के लाभ दिए जाते है ताकि मजदुरो कि आर्थिक स्थिति में सुधार किया जा सके आज देश में करोड़ो मजदुर असंगठित क्षेत्र में काम करते है और अपने घर को चलते है

एसे मजदूरो कि आर्थिक स्थिति को सुधारने के लिए सरकार ने एक विभाग तैयार किया है जिसमे श्रमिको को कजी तरह की योजना का लाभ व सुविधा दी जाती है |इस आर्टिकल में हम सभी राज्यों के श्रमिक कार्ड के बारे में व श्रमिक कार्ड कैसे बनाया जाता है आदि के बारे में जानेगे | और साथ में श्रमिक कार्ड के फायदे क्या है इसके बारे में भी जानते है |

Benefites of Shrmik Card श्रमिक कार्ड के फायदे क्या है

श्रमिक कार्ड से कई तरह के फायदे होते है जैसे सरकारी योजनाओ के लाभ में श्रमिक कार्ड को प्राथमिकता आवास बनाने के लिए श्रमिक को सहायता बच्चो कि पढाई के लिए सहायता आदि अन्य लाभ

  • मजदुर आवास योजना का लाभ श्रमिक कार्ड के तहत दिया जाता है आवास बनाने के लिए 1.50 लाख
  • कन्या विवाह अनुदान योजना में 50 हजार रु तक का लाभ दिया जाता है दो बेटियों के विवाह पर 50-50 हजार रु
  • कक्षा 5 से डिग्री डिप्लोमा तक पढाई के लिए छात्र वर्ती दो बच्चो तक
  • पेंशन योजना का लाभ
  • सिलिकोस बीमारी से पीड़ित लोगो को 1 लाख से 3 लाख तक का लाभ
  • बीमारी में फ्री इलाज की सुविधा
  • टूल किट सहायता योजना का लाभ
  • साईकिल के लिए सहायता राशी
  • बिमा योजना के लिए सहायता योजनाओ का लाभ
  • अन्य एसी राज्य के अनुसार कई योजना का लाभ दिया जाता है जिनका लाभ श्रमिक कार्ड धारक ले सकते है

श्रमिक कार्ड कैसे बनाया जाता है How to Make A Shrmik Card

How To Apply Shrmik Card – श्रमिक कार्ड बनाने के लिए आवेदन करना होता है श्रमिक विभाग में जो ऑनलाइन कर सकते है लेकिन आपको बता दे हर राज्य के लिए अलग अलग तरह से श्रमिक कार्ड बनाने जाते है यानी अलग अलग विभाग बनाए गए है श्रमिक कार्ड के लिए राज्य सरकार अपने हिसाब से इन योजना को चलती है आप अपने राज्य के अनुसार आवेदन करने के लिए यहा अपने राज्य के नाम पर क्लिक कर आवेदन कैसे करना है जन सकते है |

यहा ऊपर दी गए सभी राज्यों के श्रमिक कार्ड ऑनलाइन बनाने के लिए आप इनके लिंक पर जाकर चेक कर सकते है जहा आपको ऑनलाइन आवेदन कैसे करना है व आवेदन फॉर्म डाउनलोड कैसे करना है आदि जानकारी मिलेगी |

अपना श्रमिक कार्ड कैसे देखे

अगर आप अपना श्रमिक कार्ड ऑनलाइन देखना चाहते है की आपका श्रमिक कार्ड बना है या नहीं तो कैसे देख सकते है इसके लिए आपको अपने राज्य की श्रमिक कार्ड वेबसाइट पर जाना होगा जिसके बाद आपको अपने जिले के अनुसार सर्च करना होता है या फिर एप्लीकेशन स्टेटस पर जाकर आप श्रमिक कार्ड चेक कर सकते है

आपको यहा इसी वेबसाइट पर अपने राज्य कि केटेगरी पर जाना है जिसमे आपको श्रमिक कार्ड लिस्ट देखने का आप्शन मिलेगा जिससे आप चेक कर सकते है श्रमिक कार्ड कैसे चेक किया जाता है इसी पोस्ट के लास्ट में आपको राज्य वाइज लिस्ट मिलेगी |

श्रमिक कार्ड से जुड़े सवाल जबाब Question Answar Shrmik Card

यहा हम कुछ श्रमिक कार्ड से जुड़े सवाल जो अक्षर पूछे जाते है जिनके बारे में चर्चा करेंगे ताकि श्रमिक कार्ड के बारे में आपके जो भी सवाल है आपको उनका जबाब मिल सके यहा हम सभी सवालों के जबाब सही सही देने कि कोशिश करेंगे पर अगर किसी सवाल का जबाब अगर गलत होता है तो आप हमें कमेंट करके बताए हम सुधार करेंगे हमें जहा तक जानकारी होगी हम सही जानकारी आपको देंगे |

Q. Shrmik Card Fees श्रमिक कार्ड बनाने के लिए कितने पैसे लगते है

Ans. – श्रमिक कार्ड बनाने के लिए 90 रु से लेकर 500 रु तक फीस लगती है जो राज्य सरकार के अनुसार तय व समय के अनुसार तय फीस होती है किसी राज्य में एक वर्ष के लिए श्रमिक पंजीयन करवाने के लिए आपको 50 रु देना होता है और किसी राज्य में 50 वर्ष के पंजीयन के लिए आपको 100 रु फीस देनी होती है यानी राज्य के अनुसार व समय के अनुसार श्रमिक कार्ड फीस देनी होती है |

Q . श्रमिक कार्ड कितने दिन में बनता है

Ans. आवेदन करने के 90 दिन के अंदर अंदर आपका श्रमिक कार्ड बनकर तैयार हो जाता है अगर आवेदन में कोई समस्या नहीं है तो अगर आपने श्रमिक कार्ड के लिए अप्लाई किया है तो विभाग को आपको 90 दिन में उसका जबाब देना होता है यानी फॉर्म को रिजेक्ट या अप्प्रूव करना होता है |

Q. श्रमिक कार्ड की वेबसाइट

Ans. Shrmik Card कि वेबसाइट BOCW विभाग की वेबसाइट होती है अगर आपको अपने राज्य कि श्रमिक कार्ड वेबसाइट देखनी है तो आपको अपने राज्य का नाम व BOCW लगाकर सर्च करना है जिसके बाद आपके सामने श्रमिक कार्ड कि वेबसाइट आ जायगी जो आप गूगल पर सर्च कर सकते है

Q. श्रमिक कार्ड का पैसा कब मिलता है

Ans. श्रमिक कार्ड के पैसे के लिए आपको हर योजना के लिए अलग अलग पात्रता के अनुसार आवेदन करना है जब आप योजना कि पात्रता को पूरा करते है तो आप श्रमिक कार्ड के लाभ के लिए अप्लाई कर लाभ ले सकते है

Categories
UTTARPRADESH LABOUR CARD

यूपी श्रमिक आवास सहायता योजना 2022 ऑनलाइन पंजीकरण Shrmk awas sahayata yojana

Shrmk Awas sahayata yojana | श्रमिक आवास सहायता योजना || आवास सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन | Shrmk awas sahayata yojana last date | आवास सहायता योजना क्या है | श्रमिक आवास सहायता योजना से होने वाले लाभ क्या है |

श्रमिक आवास सहायता योजना – Shrmk Awas sahayata yojana

जैसा की आप सभी जानते है उत्तरप्रदेश राज्य में हर साल बाढ़ तो कभी अधिक वर्षा होती रहती है जिसके कारण गरीब लोगों के घर बाढ़ में बह जाते है जिन लोगों के घर बाढ़ या फिर अधिक वर्षा के कारण खराब हो जाते है वो बेघर हो जाते है ख़ास करके हर साल बाढ़ के पानी से श्रमिक (मजदूर) लोगों को सबसे ज्यादा नुकसान होता है श्रमिक ही एक एसा है जो मेहनत मजदूरी करता है और अपने परिवार का पालन पोषण करता है ऐसे मजदूर लोगों को योगी सरकार की और से मुफ्त आवास योजना का लाभ दिया जाएगा जो लोग लेबर कार्ड धारक है

यानी जिसके पास लेबर कार्ड है वो लोग इस आवास सहायता योजना के लाह के लिए आवेदन कर सकते है आवेदन के लिए आवास सहायता योजना की आधिकारिक वेबसाइट जारी कर दी गई है जिसके माध्यम से ऑनलाइन अप्लाई किया जा सकता है बहुत से मजदूर ऐसे है जिनके पास श्रमिक कार्ड (लेबर कार्ड) न होने की वजह से इस आवास सहायता योजना का लाभ नही ले पाते है सरकार की और से लेबर कार्ड हर मजदूर के लिए जारी किया जाता है जो एक बहुत लाभादायक दस्तावेज है योजना के तहत मजदूरों को आवास बनाने के लिए आर्थिक सहायता राशि प्रदान की जाती है

UTTAR PRADESH LABOUR CARD

ताकि किसी भी मजदूर को बिना घर में बाहर खुले में न सोना पड़े योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकृत श्रमिक के पास खुद का बैंक खाता होना जरूरी है क्योंकि योगी सरकार आवास योजना के तहत मकान निर्माण के लिए जो आर्थिक सहायता राशि दी जाती है वो लाभार्थी के बैंक खाते में भेजी जाती है

श्रमिक आवास सहायता योजना के पंजीकरण के लिए मुख्य योग्यताएं क्या है?

  • योजना का लाभ जो भी मजदूर लेना चाहता है उसके पास लेबर कार्ड होना चाहिए लेबर कार्ड को श्रमिक या फिर मजदूर कार्ड के नाम से भी जाना जाता है
  • जो मजदूर राज्य के एक ही जिले में स्थाई रूप से निवास करता है वह इस योजना का लाभ ले सकता है
  • इसमें महिला मजदूर भी अपना आवेदन कर सकती है और पुरुष भी आवास योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकरण करवा सकते है
  • जिस मजदूर के पास लेबर कार्ड है और वह समय पर होने वाले लेबर कार्ड शुल्क को जमा करवाता है वह इस आवास सहायता योजना का लाभ ले सकता है
  • अगर किसी पंजीकृत मजदूर के पास पहले से पक्का मकान है तो वह इस योजना का लाभ लेने के लिए पंजीकरण नही कर पायेगा
  • अगर कोई मजदूर पहले से ही केंद्र सरकार की और से सुरु की गई योजना प्रधानमंत्री आवास योजना का लाभ ले चूका है तो वह इस योजना का लाभ नही ले सकता है
  • जिसके पास मकान बनाने के लिए खुद की भूमि है या फिर परिवार के किसी अन्य सदस्य के नाम पर भूमि है तो वह इसका लाभ लेने के लिए आवेदन कर सकता है
  • लेबर कार्ड के तहत मजदूर इस योजना का लाभ सिर्फ एक बार ही ले सकता है दूसरी बार वह इस योजना में अपना आवेदन फॉर्म नही भर पायेगा

आवास सहायता योजना (Awas Sahayata Yojana) का मुख्य उदेश्य क्या है?

उत्तरप्रदेश सरकार की इस Awas Sahayata Yojana का य उदेश्य है की जो लोग मजदूर है और मजदूरी के द्वारा अपने लिए घर का निर्माण नही कर पाते है और कच्चा मकान भी बाढ़ या फिर वर्षा के साथ बह जाता है जिसके बाद उनकी आर्थिक कमजोर होने के कारण नया मकान नही बना पाते है और उनके पास लेबर कार्ड है तो उन्हें मकान बनाने के लिए योगी सरकार की और से आर्थिक सहायता राशि उनके बैंक खाते में भेजी जायेगी ताकि हर पंजीकृत मजदूर के पास का घर हो सके योजना से जुड़ कर उसका लाभ लेने के लिए मजदूर के पास श्रमिक कार्ड होना जरूरी है क्योंकि श्रमिक कार्ड के तहत मजदूर श्रम विभाग उत्तरप्रदेश के कार्यालय में पंजीकृत होता है

इस योजना के लिए व्यक्ति को कुछ पात्रताओं का भी ध्यान रखना होता जिनके बारे में उपर बता दिया अ इ और जो जो लाभ इस Awas Sahayata Yojana से होने वाले है उनके बारे में जानकारी तथा इसका लाभ लेने के लिए ऑनलाइन आवेदन कैसे किया जाता है इसके बारे में भी आपको जानकारी आर्टिकल में निचे दी गई है

Awas Sahayata Yojana के लाभ कोन कोनसे है?

आवास सहायता योजना के लाभ के बारे में विस्तार से जानकारी कुछ इस प्रकार है आइये जाने लाभ के बारे में

  • लेबर कार्ड धारक मजदूरों को इस योजना का लाभ दिया जा रहा है
  • जिन मजदूरों के पास खुद का मकान नही है या फिर बाढ़ में बह गया है तो उसे मकान निर्माण के लिए 1 लाख रूपये की धनराशी इस आवास सहायता योजना के तहत दी जायेगी वो भी दो किस्तों में
  • किसी भी मजदूर के परिवार को बाहर खुले में नही सोना होगा
  • मकान निर्माण के लिए अब मजदूर को आर्थिक तंगी से नही झुझना होगा

यूपी लेबर कार्ड की योजना व उनके लाभ – UP Labour Card Schemes

श्रमिक आवास सहायता योजना के लिए आवश्यक दस्तावेज:-

  • आवेदक का आधार कार्ड
  • वोटर कार्ड (पहचान पत्र)
  • बैंक अकाउंट नंबर
  • राशन कार्ड
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • लेबर कार्ड स्वयं का
  • फ़ोन नंबर
  • मजदूर के पास जो जमीन है उसका प्रमाण देना होगा की किसके नाम से है भूमि
  • आय प्रमाण पत्र

Shrmik Awas Sahayata Yojana में ऑनलाइन पंजीकरण कैसे करे?

  • आवास सहायता योजना में जो भी श्रमिक आवेदन करना चाहता है उसे सबसे पहले इसकी ऑफिसियल वेबसाइट को ओपन करना होगा
  • इसके बाद आपके आवास सहायता योजना का मुख्य पेज ओपन होगा जो कुछ इस प्रकार का होगा
  • इस मुख्य पेज में आपको New Registration का लिंक दिखाई देगा जिस पर श्रमिक को क्लिक करना है
  • अब आपके सामने एक छोटा से पेज ओपन होगा जिसमे आपको Click to Continue का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक क्लिक करना है
  • Click to Continue के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने इसका लॉग इन फॉर्म ओपन होगा जिसमे आपको Register Here का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर आपको क्लिक करना है
  • Register Here के लिंक पर क्लिक करने के बाद इसका रजिस्ट्रेशन फॉर्म ओपन हो जाएगा जो इस प्रकार का है
  • इस पेज में आपको पूछी गई जानकारी को सही सही भरना है और आपके मोबाइल नंबर इसमें दर्ज करना है
  • इसके बाद आपको इसमें निचे केप्चर कोड दिखाई देंगे जिसे आपको सही सही दर्ज करना है और Register के ऑप्शन पर क्लिक करना है जिसके बाद श्रमिक का इस योजना में पंजीकरण हो जाएगा
  • पंजीकरण होने के कुछ दिनों बाद मजदूर के बैंक खाते में मकान निर्माण के लिए योजना की राशि किस्तों में भेज दी जायेगी जिसे निकालकर मजदूर खुद के लिए मकान निर्माण करवा सकता है

आवास सहायता योजना हेल्पलाइन नंबर:-

  • 0522-2238902
  • 2237583

इस आर्टिकल में हमने उत्तर प्रदेश आवास सहायता योजना के बारे में आपको बताने का प्रयास किया है कि पंजीकृत श्रमिकों को किस प्रकार आवास निर्माण के लिए सहायता राशि दी जाती है आशा है हमारी तरफ से बताई गई जानकारी आपको अच्छी लगी हो यदि जानकारी समझ में आई है अच्छी लगी है तो आप इसे अपने दोस्तों को भी शेयर करें

प्रश्न-श्रमिक आवास सहायता योजना का लाभ कौन ले सकते हैं?

उत्तर-इस योजना का लाभ पंजीकृत मजदूरों को दिया जाएगा जो आवास निर्माण करने में सक्षम नहीं है

प्रश्न-आवास सहायता योजना कौन से राज्य में शुरू की गई है?

उत्तर-इस योजना को उत्तर प्रदेश राज्य में उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से पंजीकृत श्रमिकों के लिए शुरू किया गया है

प्रश्न-मकान निर्माण के लिए कितनी सहायता राशि उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से श्रमिकों को दी जाएगी?

उत्तर-उत्तर प्रदेश श्रमिक आवास सहायता योजना के तहत पंजीकृत मजदूरों को आवास निर्माण करने के लिए उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से एक लाख रुपए की आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध करवाई जाएगी

प्रश्न-योजना का प्रमुख उद्देश्य क्या है?

उत्तर-इस योजना के तहत पंजीकृत मजदूरों के कमजोर आर्थिक स्थिति में सुधार आएगा उनके जीवन स्तर में सुधार लाने के लिए इस योजना को शुरू किया है तथा जो मजदूर मकान निर्माण करवाने में सक्षम नहीं है उन्हें उत्तर प्रदेश सरकार की ओर से मकान निर्माण के लिए आर्थिक सहायता राशि उपलब्ध करवाई जाती है ताकि किसी भी मजदूर को खुले में न सोना पड़े कच्चे मकानों में न रहना पड़े