{झारखण्ड} समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना 2021 Apply Form

{झारखण्ड} समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना 2021 Samekit Aam Admi Bima Sahayata Yojana Apply Form

समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना क्या है | samekit aam admi bima sahayata yojana apply form in jharkhand | samekit aam admi bima sahayata yojana 2021 online apply | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना से क्या फायदे है | samekit aam admi bima sahayata yojana in hindi | samekit aam admi bima sahayata yojana registration | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना पंजीयन फॉर्म के बारे में | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना 2021 |

Samekit Aam Admi Bima Sahayata Yojana–झारखण्ड सरकार की और से इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना की फल की गई है इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना के तहत पंजीकृत श्रमिकों का बिमा करवाया जाता है ज्सिके बाद यदि श्रमिक की मृत्यु हो जाती है तो उसके परिवार को इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना के तहत 30 हजार रूपये से लेकर 75 हजार रूपये तक की राशि मुहहिया करवाई जाती है इस राशि को श्रमिक परिवार श्रमिक की मृत्यु के बाद आसानी से प्राप्त कर सकता है इसके अलावा इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना के तहत श्रमिक की मृत्यु ही नही

यदि वह किसी दुर्घटना में घायल होकर अपनी एक आँख या फिर शरीर के किसी एक अंग को खो देता है तो उसे 87500 रूपये की आर्थिक मदद दी जाती है इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना का लाभ उन्ही श्रमिकों को दिया जाएगा जो पंजकृत है और भवन एवं सनिर्माण कर्मकार मंडल झारखण्ड विभाग के कार्यालय से जुड़े है तथा निर्माण कार्य का काम करते है क्योंकि भवन निर्माण कार्य में लगे श्रमिकों के साथ सबसे ज्यादा दुर्घटना होने का खतरा रहता है और भी कई प्रकार की योजनाओं के जरिये झारखण्ड सरकार की और से श्रमिकों को लाभान्वित किया जाता है

समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना क्या है | samekit aam admi bima sahayata yojana apply form in jharkhand | samekit aam admi bima sahayata yojana 2021 online apply | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना से क्या फायदे है | samekit aam admi bima sahayata yojana in hindi | samekit aam admi bima sahayata yojana registration | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना पंजीयन फॉर्म के बारे में | समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना 2021 |

{झारखण्ड} समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना (Samekit Aam Admi Bima Sahayata Yojana Apply Form):-

इस बिमा योजना के तहत श्रमिक को शामिल किया जाता है जिसके पास श्रमिक कार्ड है क्योंकि इस झारखण्ड श्रमिक कार्ड की मदद से पंजकृत श्रमिक लोग बहुत सी एसी योजनाओं के लाभ प्राप्त कर सकते है जो बिना श्रमिक कार्ड के लाभ ले पाना काफी मुस्किल होता है उन्ही योजनाओं में से ये एक समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना है इस योजना के तहत श्रमिक का बिमा करवाया जाता है जिसकी प्रीमियम राशि झारखण्ड सरकार की और से वहन की जाती है श्रमिक को स्वयं की और से किसी भी प्रीमियम राशि का निवेश इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना में नही करना होता है

निवेश करने के बाद यदि पंजीकृत श्रमिक की मृत्यु किसी दुर्घटना में हो जाती है तो आश्रित श्रमिक परिवार को 30 से 75 हजार रूपये की सहायता दी जाती है ये सहायता राशि श्रमिक की दुर्घटना में मृत्यु हो जाने पर या फिर किसी प्राक्रतिक आपदा से शिकार हुए श्रमिक के आश्रित सदस्यों को दी जायेगी मगर इस योजना में आपको इस बात का भी ध्यान करना होता अहि की जो श्रमिक भवन निर्माण कार्य का काम करते है उनके लियेईस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना को सुरु किया गया है इन स्थाओं पर काम करने वाले बहुत से मजदूर हर साल किसी दुर्घटना का शिकार होकर मृत्यु को प्राप्त हो जाते है

और अगर श्रमिक दुर्घटना का शिकार होकर अपनी एक आँख को गवां देता है या श्रमिक अपने शरीर के किसी एक अंग को खो देता है तो उसे 87500 रूपये की आर्थिक धनराशी दी जाती है ये राशि झारखण्ड सरकार की और से दी जाती है इसमें पूरा पूरा योगदान राज्य सरकार का होता है समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना से जुडी आवेदन प्रक्रिया की जानकारी काम आने वाले दस्तावेज की जानकारी और समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना के उदेश्य के बारे में निचे जानकारी दी हुई है

समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना का उदेश्य:-

इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना का मुख्य उदेश्य यही है की झारखण्ड राज्य में ऐसे श्रमिक लोग जो किसी बिमा योजना का लाभ नही ले पाते है और किसी दुर्घटना का शिकार होकर मृत्यु को प्राप्त हो जाते है या फिर विकलांगता का शिकार हो जाते है जिसके बाद उनका जीवन यापन होना मुस्किल हो जाता है और श्रमिक की मृत्यु हो जाए तो भी उस पर आश्रित सदस्यों का जीवन बड़ी मुस्किल से गुजरता है इसलिए झारखण्ड सरकार के श्रम समाधान विभाग की और से इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना की सुरुआत की गई है

इस योजना के तहत श्रमिक का बिमा करवाया जाता है इसमें श्रमिक का पंजीकृत होना जरूरी होता है जिसके बाद श्रमिक के नाम से झारखण्ड सरकारकी और से इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना में प्रीमियम राशि का वहन किया जाता है इसमें श्रमिक को अपनी और से किसी भी प्रीमियम राशि का भुगतान नही करना होगा इसके बाद यदि पंजकृत श्रमिक की मृत्यु हो जाती है तो परिवार के आश्रित सदस्यों को 75 हजार रूपये तक की राशि दी जाती है इतना ही नही इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना में ये प्रावधान भी है की अगर श्रमिक जिसने योजना में पंजीकरण करवाया है

और वह किसी दुर्घटना का शिकार होकर अपने शरीर के किसी एक अंग को खो देता है या एक आँख को खो देता है तो उसे 87500 रूपये की आर्थिक सहायता दी जाती है इस में श्रमिक के परिवार और श्रमिक स्वयं को वित्तीय सहायता राशि देना योजना का मुख्य उदेश्य है भवन और निर्माण कार्य से जुड़े होने के कारण श्रमिक का घायल होने का पूरा पूरा खतरा रहता है जिसके बाद वह अपना इलाज नही करवा पाता है या फिर मृत्यु के बाद आश्रित परिवार का जीवन यापन होना मुस्किल हो जाता है ऐसे श्रमिकों को इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना में शामिल किया जाता है

योजनासमेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना
राज्यझारखण्ड
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://shramadhan.jharkhand.gov.in/schemmeDetailsShow.action

श्रमिकों को दी जायेगी सहायता राशि:-

झारखण्ड राज्य के श्रमिकों को और आश्रित परिवार के सदस्यों को बता दे की इस बार झारखण्ड सरकार की और से इस साल 4592 आर्थिक रूप से कमजोर श्रमिकों को 1.01 करोड़ रूपये की आर्थिक सहायता राशि दी जायेगी

योग्यता:-

  • श्रमिक का पंजीकृत होना बहुत जरूरी है
  • झारखण्ड राज्य के स्थाई श्रमिकों और उन पर आश्रित परिवार के सदस्यों को इस समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना का लाभ दिया जाएगा
  • पंजीकृत श्रमिक का बिमा योजना में पंजीयन करवाना होता है
  • यदि श्रमिक ने पहले इस योजना के तहत लाभ उठाया है तो उसे अब इस योजना में शामिल नही किया जाएगा
  • कामगार मजदूर लोग निर्माण कार्य से जुड़ा हुआ होना चाहिए

समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना से लाभ क्या क्या होंगे श्रमिकों को:-

  • इस योजना में श्रमिकों को दुर्घटना में घाली होकर एक आँख या शरीर के किसी एक अंग को खो देने पर 87500 रूपये की सहायता राशि दी जाती है
  • श्रमिक की मृत्यु हो जाने पर उस पर आश्रित सदस्य को 75 हजार रूपये की राशि दी जाती है
  • श्रमिक की मृत्यु के पश्चात श्रमिक परिवार को आर्थिक सहायता देना इस योजना का मुख्य लक्ष्य है
  • मजदूर घायल होकर अपंगता का शिकार हो जाने से अपना जीवन मुस्किल से गुजार पाता है ऐसे में इस योजना के लाभ से काफी आसानी हो जायेगी

समेकित आम आदमी बिमा सहायता योजना के लिए रजिस्ट्रेशन:-

  • सबसे पहले श्रमिक को अपना आधार कार्ड,पहचान पत्र,राशन कार्ड,बैंक खाता संख्या,श्रमिक सदस्य का आधार कार्ड,फोटो,मोबाइल नंबर आदि की जरूरत होगी
  • इन सभी दस्तावेजों के साथ आपको श्रम समाधान विभाग झारखण्ड सरकार के मुख्य कार्यालय में जाना होगा और वहा से आवेदन फॉर्म भरना होगा

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *