पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना मध्यप्रदेश PDUNPSA Yojana Registration

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना मध्यप्रदेश PDUNPSA Yojana Registration

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना क्या है | pandit dindyal upadhyay nirman aashry yojana registration form | pandit dindyal upadhyay nirman aashry yojana in hindi | पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में जानकारी | pandit dindyal upadhyay nirman ashraya yojana status in hindi | पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना |

Pandit Dindyal Upadhyay Nirman Aashry Yojana–पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना की सुरुआत सन 2013 में मध्यप्रदेश सरकार की और से की गई थी इस योजना के तहत श्रमिकों को लाभ दिया जाएगा जी किसी सड़क निर्माण कार्य में लगे हुए है ऐसे मजदूर लोग सड़क निर्माण कार्य दोरान सड़क पर खुले वातावरण में खड़े रहते है जिसके कारण उन्हें तेज धुप का सामना करना पड़ता है या फिर ऐसे मजदूर लोग जो रोजगार की प्राप्ति के लिए सड़क के किनारे खड़े रहते है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना क्या है | pandit dindyal upadhyay nirman aashry yojana registration form | pandit dindyal upadhyay nirman aashry yojana in hindi | पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में जानकारी | pandit dindyal upadhyay nirman ashraya yojana status in hindi | पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना |

जहां पर छाव की कोई व्यवस्था नही होती है ऐसे स्थानो पर श्रमिक निर्माण कर्मकार कल्याण बोर्ड की और से श्रमिकों के लिए छाव की सही व्यवस्था की जायेगी ताकि मजदूर लोगों को तेज धुप से बचाया जा सके बहुत से पंजीकृत श्रमिक लोग ऐसे है जिनके पास लेबर कार्ड है और उन्हें रोज रोड के किनारों पर रोजगार के लिए लाइन लगना पड़ता है ऐसे मजदूरों को अब इस योजना से फायदा होगा

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में:-

सरकार की इस योजना के तहत रोजगार की प्राप्ति के लिए जो पंजीकृत श्रमिक लोग रोजाना सड़क के किनारे खड़े रहते है उन्हें धुप से बचाने के लिए सरकार की और से हर पंजीकृत श्रमिकों के क्षेत्र में 10 लाख रूपये की लागत से सेड का निर्माण करवाया जाएगा ताकि किसी भी मजदूर को बाहर खुले में तेज धुप में न खड़ा होना पड़े ये 10 लाख रूपये की राशि स्थानीय नगर निकायों को दी जायेगी ये राशि उन्हें तब दी जायेगी जब नगरीय निकायों की और से श्रमिकों के लिए शैड निर्माण के लिए भूमि उपलब्ध करवाई जायेगी जब भूमि उपलब्ध करवा दी जाती है

उसके बाद सरकार की और से अलग अलग किस्तों में शैड यानी आश्रय निर्माण के लिए धनराशी दी जायेगी इन शैड में पिने के पानी तथा और भी कई सुविधाओं की व्यवस्था करना नगर निकायों का काम होगा आपकी जानकारी के लिए बता दे की सरकार की और से ऐसे स्थाओं पर आश्रय का निर्माण करवाया जाएगा ज्यादा से ज्यादा श्रमिक लोग निर्माण कार्य या फिर अन्य रोजगार की प्राप्ति के लिए आते है और जहां पर ठहरने की कोई व्यवस्था नही है इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में पूरी जानकारी आपको इस आर्टिकल के लास्ट में मिलने वाली है

योजनापंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना
अपडेट2021
योजना की सुरुआत 2013 में मध्यप्रदेश सनिर्माण कर्मकार कल्याण मंडल की और से
योजना किसके लिए सुरु की गई हैपंजीकृत श्रमिकों के लिए
ऑफिसियल वेबसाइटयहाँ पर क्लिक करे

इसलिए आप इस आर्टिकल को लास्ट तक पूरा पढ़े क्योंकि बहुत से लोग आर्टिकल की जानकारी को अधुरा पढ़कर छोड़ देते है जिसके कारण उन्हें किसी योजना के बारे में पूरी जानकारी नही मिल पाती है तो चलिए फिर जाते हजी इस आर्टिकल में दी गई इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में पूरी जानकारी और इससे होने वाले लाभों के बारे में जानकारी विस्तार से

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना का उदेश्य:-

मध्यप्रदेश राज्य के ऐसे क्षेत्र जहां पर पंजीकृत श्रमिक लोग रोजाना रोजगार की तलास में इक्कठा होते है मगर उस स्थान पर उन्हें तेज धुप में खड़ा कई देर तक रहना पड़ता है जिसके कारण मजदूर की हालत काफी ज्यादा खराब हो जाती है कभी कभी श्रमिकों को तेज बारिस का सामना भी करना पड़ता है ऐसे में सरकार की और से फैसला लिया गया है की यदि नगर निकाय की और से ऐसे स्थाओं पर भूमि उपलब्ध करवा दी जाए जहां पर श्रमिक लोग रोजाना आते है रोजगार की प्राप्त के लिए तो सरकार की और से नगर निकायों को 10 लाख रूपये तक की राशि प्रदान की जायेगी

वहां पर शैड जिसे श्रमिक आश्रय भी कहा जाता है उसे बनवाने के लिए इससे मजदूर लोग इसके निचे आराम से विश्राम कर सकते है इन शैडों के में पिने के स्वस्छ पानी की भी व्यवस्था नगर निकाय की और से की जायेगी सरकार की और से जो 10 लाख रूपये की राशि सेड निर्माण के लिए नगरीय निकायों को दी ज्काएगी वो एक साथ में नही दी जायेगी बल्कि जितना वो लोग निर्माण करवाते है उसके हिसाब से लगभग 1 लाख रूपये की प्रत्येक क़िस्त के हिसाब से दिए जायेगे

मध्यप्रदेश सरकार की और से सुरु की गई योजनाओं की लिस्ट:-

  1. मुख्यमंत्री निर्माण कामगार ग्रामीण आवास योजना- इस योजना के तहत MP राज्य में ग्रामीण क्षेत्र में रहने वाले कमजोर आय वर्ग के मजदूरों को मकान बनवाने के लिए एक लाख रूपये की सहायता राशि मध्यप्रदेश सरकार की और से दी जाती है
  2. खिलाड़ी प्रोत्साहन योजना- जो खिलाड़ी श्रमिक परिवार से है जिनके परिवार की आर्थिक हालत ठीक नही अहि उन बच्चों को खेल कूद में आगे बढने के लिए सरकार की और से प्रोत्साहन राशि दी जाती है
  3. मुख्यमंत्री शहरी भवन एवं सनिर्माण कामगार आवास सहायता योजना- इस योजना के तहत मध्यप्रदेश सरकार की और से शहरी क्षेत्र के श्रमिकों को मकान बनवाने के लिए ऋण राशि बैंक की और से कम ब्याज पर दी जाती है
  4. दो पहिया वाहन क्रय योजना- जो श्रमिक खुद के लिए वाहन खरीदना चाहता है उसे खरीदे गये वाहन पर 25% राशि अनुदान राशि के रूप में वापिस भुगतान की जाती है
  5. मध्यप्रदेश श्रमिक साइकिल क्रय योजना- मध्यप्रदेश राज्य के जो श्रमिक निर्माण कार्य के लिए अपने स्थान से पैदल चलकर किसी अन्य स्थान पर जाते है उन्हें साइकिल खरीदने के लिए मध्यप्रदेश श्रम विभाग की और से 2500 रूपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना से होने वाले लाभ क्या है?

मध्यप्रदेश साशन की और से लागू की गई इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना से रजिस्टर्ड मजदूर लोगों को होने वाले लाभ निम्न प्रकार के है

  • सरकार की और से हर उस क्षेत्र में श्रमिकों के लिए शैड का निर्माण करवाया जाएगा जहां पर ज्यादा संख्या में श्रमिक लोग रोजगार के लिए इक्कठा होते है
  • जो शैड पहले से निर्माणाधीन अवस्था में पड़े है उनके लिए सरकार की और से फिर से बजट तैयार किया जायेगा
  • मध्यप्रदेश भवन एवं अन्य निर्माण श्रमिक कर्मकार कल्याण मंडल की और से इस योजना को संचालित किया जा रहा है
  • अब मजदूरों को रोजगार की प्राप्त के समय टेक धुप या फिर बरसात का जो सामना करना पड़ता था उससे छुटकारा मिल जाएगा
  • इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना को ख़ास करके पंजीकृत निर्माण श्रमिकों के क्षेत्रों में सुरु किया जाएगा
  • श्रमिकों के लिए बनने वाले इन शैड में पिने के पानी की भी सही व्यवस्था की जायेगी

Pandit Dindyal Upadhyay Nirman Aashry Yojana में आवेदन कैसे करे?

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के तहत आपको इसमें आवेदन करने की जरूरत नही है क्योंकि इस योजना के तहत हर उय्स क्षेत्र में शैड का निर्माण क्वाय जाएगा जहाँ पर पंजीकृत श्रमिकों की संख्या ज्यादा है इसलिए इसमें आवेदन नही किया जाएगा इसमें नगरीय निकायों को राज्य सरकार की ओअर से किस्तों में 10 लाख रूपये की राशि शैड निर्माण के लिए दी जायेगी

जिसमे इन शैड के निर्माण का पूरा जिमा नगरीय निकायों का होगा इनमे पिने के पानी की व्यवस्था तथा ओअर भी जो उचित व्यवस्थाएं होती है वो सब करवाई जायेगी पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में ज्यादा जानकारी के लिए इसकी आधिकारिक वेबसाइट जारी कर दी गई है जिसमे आप इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के बारे में सभी प्रकार की जानकारी जान सकते है जो इस योजना के बारे में दी गई है

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के आवेदन किस प्रकार से करे?

  • सबसे पहले श्रमिक को इस पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना के लाभ हेतु श्रम सेवा पोर्टल मध्यप्रदेश की आधिकारिक वेबसाइट पर जाना है
  • इस पेज में योजनाएं का ऑप्शन है जिस पर क्लिक करे जिसके बाद इसका अगला पेज खुल जाएगा जो कुछ इस प्रकार से है
  • इस पेज में 19 नंबर पॉइंट पर आपको पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना का ऑप्शन मिलेगा जिसके आगे Search करने का ऑप्शन दिखाई देगा जिस पर क्लिक करना है
  • अब आपके सामने इसका एक और पृष्ठ ओपन हो जाएगा जिसमे View Attachment के ऑप्शन पर क्लिक करना है
  • View Attachment के ऑप्शन पर क्लिक करने के बाद आपके सामने इस स्कीम का फॉर्म खुल जाएगा जिसे आपको ध्यान से पढना होगा
  • इस फॉर्म में दी गई जानकारी को ध्यान से पढ़े उसके बाद ही आप ऑफलाइन फॉर्म श्रम विभाग के कार्यालय में जाकर के भरे

पंडित दीनदयाल उपाध्याय निर्माण पीठा श्रमिक आश्रय योजना की वेबसाइट:-

इस योजना के बारे में और भी कई प्रकार की जानकारी के लिए आप इसकी ऑफिसियल वेबसाइट को खोल ले जिसमे आपको इसके बारे में पूरी जानकारी प्राप्त हो जायेगी

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *