हरियाणा कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना 2021 form

हरियाणा कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना 2021 Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana

Coaching kaksha vittiya sahayata yojana online panjiyan | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के बारे मे | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के लाभ क्या क्या होने वाले है | coaching kaksha vittiya sahayata yojana in hindi | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म के बारे में | coaching kaksha vittiya sahayata yojana application form |

कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना:-जिन बच्चों के माता पिता ज्यादा गरीब है जो श्रमिक में आते है उन बच्चों को पढाई करने में काफी ज्यादा दिक्कत सामना करना पड़ता है बच्चे स्कुल के साथ साथ कोचिंग कक्षा में भी जाना चाहते है मगर आर्थिक स्तिथि कमजोर होने के कारण नही जा पाते है ऐसे बच्चों को अब हरियाणा सरकार की इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के तहत 20000 रूपये की सहायता राशि कोचिंग कक्षाओं के लिए दी जायेगी ये 20 हजार रूपये की राशि बच्चों को उच्चा शिक्षा प्राप्त करने के लिए की जाने वाली कोचिंग कक्षाओं के लिए दी जायेगी

Coaching kaksha vittiya sahayata yojana online panjiyan | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के बारे मे | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के लाभ क्या क्या होने वाले है | coaching kaksha vittiya sahayata yojana in hindi | कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना ऑनलाइन आवेदन फॉर्म के बारे में | coaching kaksha vittiya sahayata yojana application form |

ताकि बच्चे इस राशि की मदद से कोचिंग प्राप्त कर सके और रोजगार प्राप्त कर सके बहुत से इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ पंजीकृत श्रमिक के बच्चों को दिया जाएगा क्योंकि इन वर्ग के बच्चों को घर की आर्थिक स्तिथि बहुत ज्यादा गरीब होने के चलते शिक्षा नही मिल पाती है योजना के लाभ के इन्च्चुक बच्चों को इसमें अपना पंजीयन करवाना जो ऑफलाइन आवेदन के माध्यम से किया जा सकता है

कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना (Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana):-

हरियाणा राज्य के ऐसे बच्चे जो श्रमिक परिवार की श्रेणी में आते है और शिक्षा प्राप्त करने के उदेश्य से कोचिंग कक्षा में जाना चाह्ते है मगर घर की आर्थिक हालत ठीक नही होने की वजह से नही जा पाते है बच्चे कोचिंग कक्षाओं में नही जाने के कारण उच्च शिक्षा से वंचित रह जाते है और बहुत से बच्चे तो हर साल कोचिंग कक्षा में नही जा पाने के कारण परीक्षा में उतीर्ण भी नही हो पाते है और कुछ बच्चे उतीर्ण तो हो जाते है मगर उन्हें इतने ज्यादा नुम्म्बेर नही मिल पाते है की वो किसी रोजगार को प्राप्त कर सके इसलिए हरियाणा सरकार ने इन बच्चों की समस्या को देखते हुए इस Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana की सुरुआत कर दी है

इस योजना में उच्च शिक्षा के लिए जो बच्चे कोचिंग कक्षा में जाकर पढाई करना चाहते है उन्हें कोचिंग कक्षा के लिए 20 हजार रूपये की आर्थिक सहायता राशि दी जाती है ये सहायता राशि उन बच्चों को दी जायेगी जिनके माता या पिता के पास हरियाणा श्रमिक कार्ड है क्योंकि श्रमिक कार्ड न होने के कारण श्रमिक को श्रम विभाग में पंजीकृत नही माना जाता है श्रमिक के परिवार में यदि तीन बच्चे है तो उन तीनों बच्चों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा और यदि चार बच्चे है तो उनमे से सिर्फ तीन बच्चों को कोचिंग कक्षा के लिए आर्थिक सहायता राशि दी जायेगी

और इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ यदि बच्चा एक बार कोचिंग कक्षा के लिए ले लेता है उसके बाद फिर से अगली कक्षा के लिए नही दिया जाएगा यानी सिर्फ एक बार ही इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ लिया जा सकता है सिर्फ जो बच्चे उच्च शिक्षा ग्रहण करना चाहते है उन बच्चों को ही इस योजना में शामिल किया जाएगा तथा कोचिंग कक्षा के लिए आर्थिक धनराशी दी जायेगी निचे आर्टिकल में इस Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana के आवेदन फॉर्म की पूरी जानकारी दी हुई है इसलिए आप इस आर्टिकल को लास्ट तक जरुर पढ़े

योजनाकोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना
योजना टाइपमजदूर के बच्चों के लिए
ऑफिसियल वेबसाइटhttps://hrylabour.gov.in/bocw/
अपडेट2021
मिलने वाली सहायता राशि20 हजार रूपये की सहायता राशि
किस राज्य में सुरु की गई हैहरियाणा राज्य में इस योजना को सुरु किया गया है

कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के उदेश्य क्या है?

जिन श्रमिक परिवारों के बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त करने के इन्च्चुक है मगर घर की आर्थिक हालत ठीक न होने के चलत शिक्षा से व्च्न्हित रह जाते है और बच्चे उच्च शिक्षा के लिए कोचिंग नही जा पाते है जिसके कारण उनके परीक्षा में बहुत कम नंबर आते है और बहुत से बच्चे फ़ैल भी हो जाते है ऐसे बच्चों को अब कोचिंग कक्षा के लिए लगने वाले धन की चिंता करने की जरूरत नही है क्योंकि हरियाणा सरकार की और से इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के तहत कोचिंग कक्षा के लिए 20000 रूपये की क सहायता राशि प्रदान की जा रही है

इससे बच्चे उच्च शिक्षा प्राप्त कर पायेगे रोजगार को प्राप्त कर सकेगे जो बच्चे नियमित पढाई अपनी जारी रखना चाहते है वो इस योजना के लाभ के लिए आवेदन कर सकते है मगर याद रहे की जिन बच्चों ने एक बार इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ ले किया है उन बच्चों को इस बच्चों को इस योजना में शामिल नही किया जाएगा

कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के लिये पात्रता:-

  • जिन बच्चों के माता पिता श्रमिक की श्रेणी में आते है उन बच्चों के लिए इस योजना को सुरु किया जाएगा
  • माता या फिर पिता के पास जो लेबर कार्ड (श्रमिक कार्ड) है वो कम से कम 1 वर्ष पुराना होना जरूरी है
  • इस योजना का लाभ बच्चा उच्च शिक्षा के लिए 3 साल तक कभी भी आवेदन कर सकता है
  • एक परिवार में सिर्फ तीन बच्चों को योजना में शामिल करके सहायता राशि दी जायेगी
  • सहायता राशि प्राप्त करने के लिए लाभार्थी के नाम से बैंक में अकाउंट होना चाहिए
  • जो बच्चे नियमित तोर से अपनी पढाई को जारी रख रहे है उन बच्चों के लेबर कार्ड धारक माता या पिता को घोषणा पत्र अपलोड करना होगा
  • बच्चे नियमित कक्षा में अध्यन के लिए जाते है इसके लिए कोचिंग के मुखिया की और से प्रमाण पत्र जारी करवाना होगा और उसे आवेदन के समय जमा करवाना होगा
  • हरियाणा राज्य के जो स्थाई निवासी बच्चे है उनके लिए इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना सुरु किया गया है
  • इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ बच्चे एक बार ही अपने जीवन में कोचिंग कक्षाओं में जाने के लिए ले सकते है

Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana के लिए दस्तावेज क्या है?

  • कोचिंग कक्षा के उखिया की और से जारी किया गया प्रमाण पत्र
  • माता या फिर पिता का लेबर कार्ड
  • राशन कार्ड
  • बच्चे का आधार कार्ड
  • बैंक खाता संख्या
  • पासपोर्ट साइज फोटो
  • फ़ोन नंबर बच्चे का

इन श्रमिकों के बच्चे योजना का लाभ ले सकते है:-

Coaching Kaksha Vittiya Sahayata Yojana का लाभ राज्य के जिन जिन श्रमिक को श्रमिक की श्रेणी में शामिल किया गया है और जिनके बच्चों को इस योजना का लाभ दिया जाएगा उन श्रमिकों के बारे में कुछ इस प्रकार से है

  • लोहार
  • बढ़ई
  • कारपेंटर
  • रंगाई का काम
  • पुताई का काम
  • इंट भट्टों का काम
  • चट्टान तोड़ने के काम करने वाले
  • इलेक्ट्रीशिययन
  • हतोड़ा चलाने वाले
  • कुँओं की खुदाई का काम करने वाले
  • साफ़ सफाई का काम करने वाले
  • दर्जी का काम करने वाले
  • सड़क का निर्माण करने वाले
  • रोलर चलाने वाले
  • प्लम्बर आदि

कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के पंजीयन फॉर्म के बारे में जानकारी:-

  • इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना का लाभ लेने के लिए फ्फ्लिने आवेदन के जरिये आवेदन फॉर्म भरना होता है जिसके लिए श्रमिक या फिर उसके बच्चे को श्रम विभाग हरियाणा के मुख्य कार्यालय में जाना होता है और वहा से इसका आवेदन फॉर्म भरकर बताये गये दस्तावेजों के साथ जमा करवाना होता है जिसके बाद इसके तहत मिलने वाली 20 हजार रूपये की आर्थिक धनराशी श्रमिक के बच्चे के बैंक खाते में भेजी जाती है इस कोचिंग कक्षा के लिए वित्तीय सहायता योजना के बारे में और अधिक जानकारी भी इसकी ऑफिसियल वेबसाइट पर जाकर के प्राप्त की जा सकती है
  • इस घोषणा पत्र में आवेदक छात्र या फिर छात्रा को पूछी गई जानकारी को सही सही भरना है और आवेदन फॉर्म के साथ इसे सम्बन्धित कार्यालय में जमा करवा देना है

Leave a Comment

Your email address will not be published. Required fields are marked *